पीएम मोदी ने दाउदी बोहरा समाज ‘अशरा मुबारका’कार्यक्रम में हिस्सा लिया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को इंदौर में हजरत इमाम हुसैन की शहादत के स्मरणोत्सव ‘अशरा मुबारका’कार्यक्रम में हिस्सा लिया। बोहरा समाज के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है, जब किसी प्रवचन कार्यक्रम में कोई प्रधानमंत्री शामिल हो रहा है। शिवराज सरकार ने सैफुद्दीन को राजकीय अतिथि का दर्जा दिया है।
इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद रहे। उन्होंने कहा, उज्जैन कभी भूल नहीं सकता। मुझे सैय्यदाना साहब से मिलने का मौका मिला। उन्होंने मेरा हाथ चूमा वो स्पर्श आज भी मेरे साथ है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, जीएसटी, इनसॉल्वेंली और बैंकरप्टसी कोड जैसे अनेक कानूनों के माध्यम से ईमानदार कारोबारियों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। देश का व्यापारी और कारोबारी अर्थव्यवस्था की रीढ है। वो देश में रोज़गार पैदा करने वाली महत्वपूर्ण ईकाई है। उसको जितना प्रोत्साहन संभव है दिया जा रहा है। पीएम मोदी ने कहा, कल से स्वच्छता ही सेवा’ पखवाड़ा शुरु हो रहा है। मैं कल खुद देश के स्वच्छाग्रहियों, समाज में स्वच्छता के प्रति जनजागरण करने वाले आप जैसे नागरिकों, धर्मगुरुओं, कलाकारों, उद्यमियों, यानि समाज के हर वर्ग के लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत करुंगा।
मोदी ने कहा कि चार साल पहले केवल 40 प्रतिशत घरों में ही शौचालय थे। हमारी माता-बहनों को काफी तकलीफ होती थी। इतने कम समय में यह संख्या 90 प्रतिशत तक पहुंच चुकी है। बहुत जल्द कदेश खुद को खुले में शौच से मुक्त कर देगा। इंदौर स्वच्छता आंदोलन का अगुवा है। मैं इंदौर के सभी नागरिकों को, यहां के प्रशासन को, यहां के मुख्यमंत्री को, उनकी टीम को हृद्यपूर्ण अभिनंदन करता हूं। आज हम जिस इंदौर शहर में जुटे हैं, ये तो स्वच्छता के इस आंदोलन का अगुवा है। इंदौर निरंतर स्वच्छता के पैमाने पर देशभर में नंबर 1 रहा है। इंदौर ही नहीं भोपाल ने भी इस बार कमाल किया है।
उन्होंने कहा कि गरीब और जरुरतमंदो को घर देने का बीड़ा जो आपने उठाया है वह सराहनीय है। मुझे बताया गया है कि आपके प्रयासों की वजह से 11,000 लोगों को अपना घर मिला है। अब तक एक करोड़ से अधिक भाई-बहनों को सरकार ने घर की चाबी सौंपी है। बाकी घरों पर तेज गति से काम चल रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा, इमाम हुसैन के पवित्र संदेश को आपने अपने जीवन में उतारा है और दुनिया तक उनका पैगाम पहुंचाया है। हम पूरे विश्व को एक परिवार मानने वाले, सबको साथ लेकर चलने की परंपरा को मानने वाले लोग हैं।

दाउदी बोहरा समाज की प्रशंसा करते हुए पीएम ने कहा कि यह समाज कोशिश कर रहा है कि कोई भी व्यक्ति भूखा ना सोए। आप दर्जनों अस्पताल चला रहे हैं। देश में पहली बार सरकार ने स्वास्थ्य को इतनी अहमियत दी है। गुजरात सरकार के दौरान आप लोगों ने मेरा साथ दिया। बोहरा समाज शांति का संदेश देता है। कुछ सालों पहले कुपोषण से लड़ने के लिए गुजरात सरकार के दौरान मैंने सहयोग मांगा था जिसे उन्होंने हाथोंहाथ लिया और मेरा सहयोग किया।
पीएम मोदी ने कहा, महात्मा गांधी और सैयदना की मुलाकात ट्रन में हुई और दोनों के बीच निरंतर संवाद होता रहा। दांडी यात्रा के दौरान महात्मा गांधी सैयदना साहब के घर सैफी विला में ठहरे थे। आजादी के बाद सैयदना साहब ने इस विला को देश को समर्पित कर दिया था। यहां मुझे अपनापन महसूस होता है। आज भी मेरे दरवाजे आपके परिवारजनों के लिए हमेशा खुले रहते हैं। पीएम मोदी ने इमान हुसैन को याद किया। उन्होंने कहा कि इमाम हुसैन ने अमन और शांति के लिए शहीद हुए थे। शांति, सद्भाव, सत्याग्रह और राष्ट्रभक्ति के प्रति बोहरा समाज की भूमिका हमेशा महत्वपूर्ण रही है। अपने देश से अपनी मातृभूमि के प्रति सीख अपने प्रवचनों से देते रहे हैं।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *