Thursday, September 23Welcome Guest !

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़

लैलूंगा नगर : एल्डरमैन कांग्रेसी नेता और उनकी पत्नी की हत्या

लैलूंगा नगर : एल्डरमैन कांग्रेसी नेता और उनकी पत्नी की हत्या

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
रायगढ़।  लैलूंगा नगर के प्रसिद्ध राइस मिल संचालक व एल्डरमैन कांग्रेसी नेता और उनकी पत्नी की निर्मम हत्या कर चोरी की घटना को अंजाम देने का सनसनीखेज वारदात सामने आया है। हत्याकांड की वारदात से लैलूंगा वासियो में भारी रोष है तो लोग सहमे हुए है। वारदात की भनक लगते ही एसपी अभिषेक मीना फोरेंसिक टीम के साथ मौके पर सघन जांच पड़ताल कर रहे है।...
छिंदवाड़ा में पदस्थ प्रधान आरक्षक की हत्या, जंगल में दफनाया शव

छिंदवाड़ा में पदस्थ प्रधान आरक्षक की हत्या, जंगल में दफनाया शव

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
सिवनी, पड़ोसी जिले छिंदवाड़ा के चौरई अनुविभाग के चांद पुलिस थाने में पदस्थ कार्यवाहक प्रधान आरक्षक विजय बघेल (46) की हत्या कर शव को सिवनी के बम्होड़ी (बरघाट) जंगल में दफनाने का मामला सामने आया है। मृतक प्रधाान आरक्षक मूलत: सिवनी के जैतपुर गांव का रहने वाला है, जिसकी पदस्थापना करीब 15-20 दिन पहले छिंदवाड़ा पुलिस लाइन से चौरई अंतर्गत पुलिस थाना चांद में की गई थी। मृतक फिलहाल चौरई में परिवार के साथ रह रहा था। चौरई पुलिस के मुताबिक दो दिन पहले 21 सितंबर को प्रधान आरक्षक विजय बघेल के लापता होने पर छानबीन शुरू की गई। संदिग्ध से पूछताछ में पता चला कि चौरई मे प्रधान आरक्षक की हत्या कर शव को सिवनी लाकर बरघाट बम्होड़ी के जंगल में दफनाया गया है। इसके बाद 23 सितंबर गुरुवार सुबह को आरोपित को साथ लेकर चौरई पुलिस मौके पर पहुंची, जहां शव को निकालने खुदाई की जा रही है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक हत्या म...
खूंटी में हार्ट अटैक से CRPF जवान की मौत

खूंटी में हार्ट अटैक से CRPF जवान की मौत

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
खूंटी। खूंटी जिले के अड़की प्रखंड अंतर्गत सुदूरवर्ती नक्सल प्रभावित कोरबा में सीआरपीएफ 94 बटालियन के सी कंपनी में तैनात एक जवान की मंगलवार को हार्ट अटैक से मृत्यु हो गई। मृतक जवान 32 वर्षीय सी शंकर तमिलनाडु के धरमापुरी जिले के मारंगदहल्ली का रहने वाला था। सारी प्रक्रिया पूरी करने के बाद बुधवार को मृतक जवान का शव उनके पैतृक घर के लिए भेजा जाएगा। खूंटी स्थित सीआरपीएफ मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार की सुबह कोरबा स्थित कैंप में जवानों के लिए कौशल विकास का प्रशिक्षण चल रहा था। इसी क्रम में करीब दस बजे सी शंकर चक्कर खाकर अचानक पीछे की ओर गिर गए। उनके साथियों ने उसे उठाकर तत्काल प्राथमिक उपचार दिया। इसके बाद उसे इलाज के लिए अड़की स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया। यहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसे खूंटी सदर अस्पताल रेफर कर दिया। जवान को इलाज के लिए सदर अस्...
सीएम शिवराज ने किया 1000 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण

सीएम शिवराज ने किया 1000 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
भोपाल । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जन-कल्याण और सुराज अभियान में मिंटो हाल में एक हजार करोड़ से अधिक की लागत के 73 विकास कार्यों का वर्चुअल लोकार्पण किया। साथ ही 402 शहरों को 15वें वित्त आयोग की अनुशंसा पर 299.04 करोड़ रुपये सिंगल क्लिक से वितरित किए। कार्यक्रम में भोपाल और नर्मदापुरम संभाग में 13, इंदौर में 15, सागर में दो, जबलपुर में 17, उज्जैन में 19, रीवा में एक, ग्वालियर-चंबल में छह और मध्य प्रदेश निर्माण एवं अधोसंरचना विकास मंडल के छह विकास कार्यों का लोकार्पण किया। मध्य प्रदेश की 30 फीसदी से ज्यादा आबादी अब हमारे शहरों में रहती है। पहली जरूरत शहरों में स्वच्छता की है। इस समय डेंगू की समस्या है। हमें डेंगू को फैलने से रोकने के लिए स्वच्छता रखना है। मध्य प्रदेश देश में स्वच्छता के मामले में सबसे ऊपर है। हमारी विकास की योजनाओं में गरीबों को स्थान देना जरूरी है। हमने संकल्प ल...
फ्लाइट की क्षमता के 85 फीसद बैठ सकेंगे यात्री : रायपुर

फ्लाइट की क्षमता के 85 फीसद बैठ सकेंगे यात्री : रायपुर

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
रायपुर । कोरोना की रफ्तार कम होने के चलते अब हवाई यात्रियों को राहत दी जाने लगी है। जानकारी के अनुसार कुछ दिन पहले विमानन कंपनियां 65 फीसद यात्रियों को बिठाने की अनुमति थी। अब विमानन कंपनियां फ्लाइट की क्षमता के 85 फीसद यात्रियों को बिठा सकती है। रायपुर विमानतल के निदेशक राकेश सहाय ने बताया कि फ्लाइट में यात्रियों की क्षमता बढ़ने से आने वाले दिनों में यहां से हवाई यात्रियों की आवाजाही और बढ़ेगी। इन दिनों विमानन कंपनियों द्वारा रायपुर से नए-नए क्षेत्रों के लिए हवाई सेवाएं भी शुरू की जा रही है।   हफ्ते भर में 28917 यात्रियों की आवाजाही 13 से 19 सितंबर तक के हफ्ते में रायपुर विमानतल से कुल 28917 हवाई यात्रियों की आवाजाही हुई। हवाई यात्रियों की संख्या पिछले हप्ते की तुलना में चार फीसद की बढ़ोतरी हुई। इसी प्रकार इस हफ्ते 298 उड़ानों की आवाजाही रही,जो पिछले हप्ते की तुलना में...
मध्‍य प्रदेश के 11 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

मध्‍य प्रदेश के 11 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
(DID News) :- मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे के दौरान प्रदेश के 11 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसमें अनूपपुर, उमरिया, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला, बैतूल, आलीराजपुर, धार, इंदौर, रतलाम व उज्जैन जिले शामिल हैं। इसके लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। इधर, मौसम विभाग का मानना है कि सागर, रीवा, जबलपुर, शहडोल, इंदौर व उज्जैन संभाग के जिलों में अनेक स्थानों पर व ग्वालियर, चंबल, भोपाल व होशंगाबाद संभाग के कुछ स्थानों पर गरज चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। इधर, सुबह साढे आठ बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक मंडला में 56, पंचमढ़ी में 33, इंदौर 10.2, जबलपुर में 7.6, उज्जैन में 4, छिंदवाड़ा में दो, शाजापुर में दो, बैतूल में एक, उमरिया में चार, मलाजखंड में 80 मिमी बारिश दर्ज की गई है। पूर्व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि पूर्वी राजस्थान और उसके आसपास कम दबाव का क्षेत्र बना है। बंगाल ...
बुनियादी ढांचे की मजबूती से विकास को मिलेगी गति : छत्तीसगढ़

बुनियादी ढांचे की मजबूती से विकास को मिलेगी गति : छत्तीसगढ़

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
रायपुर।  विकास के लिए बुनियादी ढांचे का मजबूत होना बहुत जरूरी है। इसके बिना न तो उद्योेग पनप सकता है और न ही व्यापार। जब उद्योेग और व्यापार का विस्तार नहीं होगा तो बेरोजगारी बढ़ेगी। ऐसी स्थिति में किसी राज्य के विकास की तो कल्पना भी नहीं की जा सकती। छत्तीसगढ़ को संभावनाओं का राज्य कहा जाता है। राज्य में संभावनाएं बनीं रहें, इसके लिए बुनियादी ढांचे को मजबूत करने की प्रक्रिया सतत जारी रहनी चाहिए। पिछले कुछ सालों से इस पर विराम-सा लग गया है। अर्थशास्त्र का नियम है कि जब राज्य में आर्थिक संकट की स्थिति हो तो सबसे पहले बुनियादी ढांचे कोे मजबूत करने का काम शुरू करना चाहिए। इससे जहां रोजगार मिलेंगे, वहीं बाजार में पूंजी और धन का प्रसार बढ़ेगा। राज्य सरकार को जिस तरह लगातार कर्ज लेकर व्यवस्था चलानी पड़ रही है, उसे देखते हुए जरूरी है कि बुनियादी ढांचेे के विकास केलिए तेजी से काम करना चाहिए। मुख्यमंत...
कोरोना के बाद अब डेंगू , स्कूलों में कैसे सुरक्षित रहेंगे बच्चे

कोरोना के बाद अब डेंगू , स्कूलों में कैसे सुरक्षित रहेंगे बच्चे

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
(DID News) जबलपुर:-  प्राइमरी स्कूल खोले जाने पर मध्यप्रदेश जागरूक अधिकारी कर्मचारी संयुक्त समन्वय समिति ने विरोध जताया है। समिति के जिला अध्यक्ष रॉबर्ट मार्टिन ने जारी बयान में बताया कि प्राथमिक शालाओं में पढ़ने वाले नन्हे-मुन्ने बच्चे स्कूल प्रारंभ होते ही जाना शुरु कर देंगे। शाला संचालन का समय सुबह 10:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक याने सात घंटे का होगा। इन सात घंटों में कोरोना और अब डेंगू के कहर से नौनिहाल कैसे सुरक्षित रहेंगे। ऐसे में बच्चों का संक्रमण से बचना मुश्किल जान पड़ता है। सफाई भी नहीं होती: संघ पदाधिकारियों ने बताया कि कोरोना काल के चलते करीब दो सालों से स्कूल बंद हैं। कई स्कूलों में साफ-सफाई तक नहीं होती।आसपास का वातावरण भी साफ सुथरा नहीं है । वहीं कई स्कूलों के आसपास गंदगी होने से मच्छर बहुत अधिक हैं। जिससे डेंगू का खतरा बना हुआ है। कई स्कूलों की जर्जर हालत होने से...
छत्तीसगढ़ में आज से राजीव युवा मितान क्लब की शुरुआत

छत्तीसगढ़ में आज से राजीव युवा मितान क्लब की शुरुआत

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़ में सरकार 15 से 40 वर्ष आयु के युवाओं के लिए नया क्लब बनवाएगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को CM हाउस में आयोजित एक समारोह में राजीव युवा मितान क्लब योजना का शुभारंभ किया। प्रत्येक क्लब के संचालन के लिए सरकार सालाना एक लाख रुपए देगी।इस संबंध में अधिकारियों ने बताया कि इस योजना के तहत राज्य की सभी ग्राम पंचायतों एवं नगरीय निकायों में चरणबद्ध रूप से कुल 13 हजार 269 क्लब गठित किये जाने हैं। प्रत्येक ग्राम पंचायत और नगरीय निकाय के वार्ड में कम से कम एक क्लब होगा। जिन ग्राम पंचायतों और शहर के वार्ड की आबादी 2500 से अधिक होगी, वहां दो क्लब भी बनाए जाएंगे। इस क्लब में कम से कम 20 और अधिक से अधिक 40 सदस्य होंगे। इनमें से एक तिहाई महिलाओं का होना अनिवार्य होगा। ये क्लब कलेक्टर और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व (SDM) के तहत काम करेंगे। जिले के प्रभारी मंत्री इस क्लब के संरक्षक होंगे। सरकार ...
2 साल से स्कूल में ताला लगा था; दो शिक्षक घर बैठे लेते रहे वेतन

2 साल से स्कूल में ताला लगा था; दो शिक्षक घर बैठे लेते रहे वेतन

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़
मध्यप्रदेश का शिक्षा विभाग भी गजब है। भोपाल की रातीबढ़ और खजूरी के बीच सीमा पर स्थित शासकीय प्राथमिक शाना नांदनी स्कूल के निरीक्षण करने पहुंचे अधिकारी भी दंग रह गए। स्कूल में ताला लगा था और न तो वहां बच्चे थे और न ही शिक्षक अधिकारियों ने निगरानी जन शिक्षक अरुण मिश्रा को बुलाया, तो उन्होंने बताया कि यहां एक भी बच्चा नहीं है। यहां पर दो शिक्षक तैनात हैं, वे कभी स्कूल आते ही नहीं। इसके बाद जांच में पाया गया कि अरुण मिश्रा ने विभाग को गलत जानकारी देते हुए गुमराह किया है। स्कूल में दो बच्चे पढ़ते हैं, लेकिन शिक्षक कभी नहीं आते। इस लापरवाही के लिए संयुक्त संचालक लोक शिक्षण भोपाल आरएस तोमर ने अरुण मिश्रा को सस्पेंड कर दिया। जिला शिक्षा अधिकारी नितिन सक्सेना ने बताया कि जेडी ने इसकी कार्रवाई की है। दोनों शिक्षकों को भी सस्पेंड किया गया है। पीएस ने किया था औचक निरीक्षण दो दिन पहले प्रमुख सचिव स्कू...