Tuesday, April 20Welcome Guest !

श्री राम और मुसलमान के बीच कंफ्यूज हुई कांग्रेस, साथ किसका ले और सिमटते वजूद को बचाए किधर से?

(DID NEWS): पश्चिम बंगाल में एक तरफ जहां भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत लगाई हुई है। वहीं दूसरी तरफ देश की ग्रैंड ओल्ड पार्टी कांग्रेस किसका साथ ले और किसका नहीं इसको लेकर कनफ्यूजन में है। बंगाल चुनाव में सबसे ज्यादा कनफ्यूजन में कांग्रेस पार्टी चल रही है और पार्टी का स्टैंड स्पष्ट नहीं नजर आ रहा। वाम हो श्रीराम हो या मुसलमान वोटर हर मुद्दे पर कांग्रेस का कनफ्यूजन है। कांग्रेस का ये कन्फूजन लेफ्ट को लेकर भी है।

उसने बंगाल, असम और तमिलनाडु में तो लेफ्ट पार्टियों से गठबंधन किया है लेकिन केरल में उसे चुनौती दे रही है। कांग्रेस की इस दोहरी चाल ने वोटरों को भी कंफ्यूज कर दिया है। 824 सीटों की असेंबली इलेक्शन में कांग्रेस और वामपंथी पार्टियों का हाल कुछ ऐसा ही है। लेफ्ट फ्रंट हो या कांग्रेस दोनों के लिए ये चुनाव अपने सिमटते वजूद को बचाने के लिए चुनौती बन गया है। जब सवाल सिकुरती हुई सियासी जमीन बचाने का हो तो कांग्रेस को लाल सलाम करने से ऐतराज नहीं होता। चाहे वो तमिलनाडु, असम या बंगाल हो।