Tuesday, April 20Welcome Guest !

असम में कांग्रेस को मुस्लिम वोटों की आस तो भाजपा को ध्रुवीकरण पर विश्वास

क्षेत्रीय समाचार ( DID NEWS) : असम विधानसभा चुनाव के लिए दो चरण के मतदान हो गए है जबकि आखिरी चरण का मतदान 6 अप्रैल को होगा। असम में मुख्य मुकाबला कांग्रेस के नेतृत्व वाली महाजोत और भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए के बीच में है। आंकड़ों के लिहाज से देखें तो कांग्रेस ने बदरुद्दीन अजमल की पार्टी एआईयूडीएफ के साथ गठबंधन कर अपनी स्थिति को मजबूत जरूर की है। लेकिन सत्तारूढ़ भाजपा अब भी काफी आगे दिखाई दे रही है।

सबसे दिलचस्प बात यह है कि जहां कांग्रेस के नेतृत्व वाली महाजोत मुस्लिम वोटरों के आस में अपनी चुनावी नैया को पार लगाने की कोशिश में है। वहीं भाजपा पूरी तरह से हिन्दू वोटों के ध्रुवीकरण की कोशिश में है। कुल मिलाकर कहें तो विकास की बात करते-करते नेता और पार्टियां असम में चुनावी नतीजों के लिए धर्म और जाति के आधार पर भी वोटरों को लुभाने की कोशिश कर रही हैय। कांग्रेस ने एआईयूडीएफ के साथ गठबंधन करके इस चुनाव को दिलचस्प बना दिया है।