कर्नाटक में भाजपा की सरकार

कर्नाटक में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति सामने आने के बाद सबसे बड़े दल भाजपा और कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन के सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद राज्य में भावी सरकार को लेकर संशय और गहरा गया है। अब सारी नजरें राज्यपाल वजुभाई वाला पर टिक गई हैं। उन्हें फैसला करना है कि वह सरकार बनाने के लिए सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी भाजपा को आमंत्रित करें या कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन को बुलाएं। भाजपा के सीएम पद के उम्मीदवार येद्दियुरप्पा और भाजपा के वरिष्ठ नेता जेपी नड्डा और धर्मेन्द्र प्रधान और प्रकाश जावड़ेकर ने आज राज्यपाल से राजभवन में मुलाकात की
येदियुरप्पा ने किया सीएम बनने का दावा
राज्यपाल से मुलाकात के बाद येदियुरप्पा ने दावा किया कि वे गुरुवार को सीएम पद की शपथ ग्रहण करेंगे। उन्होंने कहा कि हमने राज्यपाल से सरकार बनाने का दावा पेश किया है। हमें बस उनके फैसले का इंतजार है। येदियुरप्पा को भाजपा ने बुधवार रात को विधायक दल का नेता चुना।
जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने कहा कि हम कांग्रेस के साथ है। उन्होंने कहा कि भाजपा राज्य में सरकार बनाने की जल्दी में है लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे। दूसरी तरफ जेडीएस के करीब 12 विधायक भाजपा के संपर्क में हैं, ये सभी विधायक कांग्रेस के साथ गठबंधन से नाराज हैं। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भाजपा उसके विधायकों को डराने-धमकाने की कोशिश कर रही है, यही कारण है कि पार्टी की ओर से विधायकों को सुरक्षित रखने के लिए कई तरह की कोशिशें की जा रही हैं। कांग्रेस ने इग्लटन रिसॉर्ट में अपने विधायकों के लिए कमरे बुक करवाए हैं। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस ने रिसॉर्ट में 120 कमरे बुक कराए गए हैं।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *