Thursday, July 22Welcome Guest !

राजनीति

प्रतापगढ़ में ग्रामीणों की सरकार को चेतावनी

प्रतापगढ़ में ग्रामीणों की सरकार को चेतावनी

राजनीति
राजनीति (DID NEWS):-  प्रदेश में माइंस घोटाले में प्रतापगढ़ का नाम आने के साथ ही जिले के पीपलखूंट क्षेत्र के ग्रामीण अब सरकार के खिलाफ लामबंद हो गए है। खनन घोटाले के खुलासे के बाद से ही सोशल मीडिया पर माइनिंग अधिकारी और क्षेत्र के ग्रामीणों के बीच का एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। यह वीडियो 6 नवम्ंबर 2020 का बताया जा रहा है। इसमें माइंस के अधिकारियों को क्षेत्र में बिना ग्राम सभा और पंचायत की अनुमति के प्रवेश नहीं करने को लेकर चेतावनी दी जा रही है। अब यह मामला एक बार फिर सुर्खियों में आने के बाद पीपलखूंट क्षेत्र के ग्रामीणों ने फिर आंदोलन की तैयारियां कर ली है। क्षेत्र के ग्रामीणों ने बैठक कर क्षेत्र के जंगल और जमीन को बचाने को लेकर तैयारी शुरू कर दी है।उल्लेखनीय है कि लाइम स्टोन मेजर मिनरल में आता है, जिसकी नीलामी केंद्र के नियमों के अनुसार करने का प्रावधान है, जबकि मार्बल माइनर मि...
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंददास कोंथौजम ने पद से इस्तीफा दिया

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंददास कोंथौजम ने पद से इस्तीफा दिया

राजनीति
राजनीति (DID NEWS):- पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर की प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविंददास कोंथौजम ने मंगलवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। माना जा रहा है कि कोंथौजम के साथ कांग्रेस के कम से कम 7 अन्य विधायक मंगलवार को ही भाजपा में शामिल होंगे। कोंथौजम राज्य की विधानसभा में बिष्णुपुर से विधायक हैं। विधानसभा की कुल 60 सीटों में से राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन  की सरकार के पास 36 सीटें हैं। गठबंधन में भाजपा (24 सीटें), नेशनल पीपुल्स पार्टी (4 सीटें), नागा पीपुल्स फ्रंट (4 सीटें), लोकजनशक्ति पार्टी (एक सीट) और स्वतंत्र (3 सीटें) शामिल हैं। विपक्ष में कांग्रेस के पास 17 सीटें, तृणमूल कांग्रेस के पास एक सीट और 6 सीटें खाली पड़ी हैं।अगर कांग्रेस के 8 विधायक भाजपा का दामन थामते हैं तो भाजपा में 44 विधायक हो जाएंगे, जबकि कांग्रेस में सिर्फ 9 विधायक रह जाएंगे। 2017 के विधानसभा चुनावों के बाद स...
दो दिन बाद दिल्ली, यूपी समेत कई राज्यों में ममता की वर्चुअल रैली

दो दिन बाद दिल्ली, यूपी समेत कई राज्यों में ममता की वर्चुअल रैली

राजनीति
बंगाल विधानसभा चुनाव में भाजपा की पूरी जोर आजमाइश के बावजूद बड़े बहुमत से जीतने वाली ममता बनर्जी की नजर अब केंद्र की कुर्सी पर है। ममता बनर्जी ने सोमवार को 2024 लोकसभा चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस का नारा जारी किया है- देश जादेर चाइछे यानी जिसे देश चाहता है।पूरा कोलकाता ममता बनर्जी और उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी की फोटो लगे पोस्टरों से पट गया है। जिनसे साफ जाहिर है कि ममता बनर्जी ने 2024 के चुनाव के लिए क्या लक्ष्य रखा है।चुनावी कैंपेन की नई टैग लाइन तब जारी की गई है, जब 21 जुलाई को ममता पार्टी के शहीद दिवस का बड़ा प्रोग्राम करने जा रही हैं। 1993 में 21 जुलाई को पुलिस फायरिंग में 13 यूथ वर्कर्स की जान गई थी। 21 जुलाई को ममता बनर्जी एक वर्चुअल रैली करेंगी। इसकी स्ट्रीमिंग दिल्ली, उत्तर प्रदेश, असम, त्रिपुरा और दूसरी जगहों पर भी की जाएगी। पिछले साल इस दिन ममता ने अपने दफ्तर से पार्टी वर्कर्स को...
दिग्विजय सिंह की इमरान खान को नसीहत, बोले- आतंकियों पर करें सख्त कार्रवाई

दिग्विजय सिंह की इमरान खान को नसीहत, बोले- आतंकियों पर करें सख्त कार्रवाई

राजनीति
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने शनिवार को कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच वार्ता की बहाली तभी संभव है जब इमरान खान के नेतृत्व वाली सरकार 26/11 के मुंबई आतंकी हमले और भारतीय धरती पर अन्य हमलों के अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करती है। आरएसएस पर दिए इमरान खान के बयान पर बोलते हुए सिंह ने पीटीआई से कहा, '"वे सभी लोग भारत और पाकिस्तान के बीच वार्ता को फिर से शुरू करने के रास्ते में बाधा हैं जिन्होंने उन्हें मुंबई और भारत में अन्य स्थानों पर आतंकवादी हमले करने वालों को आश्रय और वित्त प्रदान किया।' इमरान खान ने दोनों देशों के बीच स्थगित वार्ता के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को जिम्मेदार ठहराया है। भारत द्वारा वांछित शीर्ष 31 आतंकवादियों में शामिल हाफिज सईद और मसूद अजहर का नाम लेते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि पाकिस्तान सरकार उन लोगों को पूरी तरह से आश्रय दे रही है जो भारत विरोधी आतंकवाद क...
कैप्टन सरकार चुनावी रफ्तार पकड़ रही

कैप्टन सरकार चुनावी रफ्तार पकड़ रही

राजनीति
 पंजाब के दो लाख 85 हजार खेत मजदूरों और भूमिहीन किसानों का कर्ज माफ करने की घोषणा करके राज्य सरकार ने एक और चुनावी कदम ही उठाया है। इससे पहले सरकार ने 5.64 लाख किसानों का 4,624 करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया था। इनमें अधिकतम सीमा दो लाख रुपये तक थी। इस बार क्योंकि कर्जमाफी भूमिहीन किसानों और खेत मजदूरों की है तो जाहिर है कि यह कम कर्ज लेने वाले लोग हैं इसलिए इनके बीस हजार रुपये तक के कर्ज माफ होंगे। वह कर्ज जो इन्होंने सहकारी समितियों वगैरह से ले रखे हैं। इस तरह मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने एक चुनावी वादे को पूरा करने की कोशिश की है। कांग्रेस ने वर्ष 2017 में यह वादा किया था। इसे सरकार पूरी तरह भुनाना भी चाहती है, इसीलिए इस राशि को बांटने के लिए राजीव गांधी की जन्मतिथि 20 अगस्त को राज्य स्तरीय कार्यक्रम किया जाएगा, जिसमें मुख्यमंत्री चेक बांटेंगे। ऐसे ही कार्यक्रम सरकार ने बेरो...
पीयूष गोयल होंगे राज्यसभा में सदन के नेता

पीयूष गोयल होंगे राज्यसभा में सदन के नेता

राजनीति
राजनीति (DID NEWS):- केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल राज्यसभा में सदन के नेता होंगे. इससे पहले थावरचंद गहलोत इस पद पर थे लेकिन उन्हें कर्नाटक का राज्यपाल बनाए जाने के बाद यह पद खाली हो गया था. गोयल वर्तमान में उच्च सदन के उपनेता हैं. वरिष्ठ सांसद के तौर पर गोयल एक प्रभावी फ्लोर मैनेजर रहे हैं, उनके नेतृत्व में तीन तालक और अनुच्छेद 370 जैसे महत्वपूर्ण बिल पारित किए गए है. महाराष्ट्र के रहने वाले गोयल का राज्य के लोगों और सदन के विपक्षी नेताओं के साथ एक उत्कृष्ट तालमेल है. गोयल पहले रेल मंत्री थे लेकिन हाल ही में कैबिनेट में हुए फेरबदल के बाद वह वाणिज्य और उद्योग सहित तीन विभागों का जिम्मा संभाल रहे हैं. पीयूष गोयल 2010 से राज्यसभा के सदस्य रहे हैं. सदन में उनका विपक्षी नेताओं  से अच्छा तालमेल है. इससे पहले राज्यसभा में नेता के लिए भाजपा की तरफ से निर्मला सीतारमण और भूपेंद्र यादव के नाम पर भ...
आखिर वोट बटोरने के लिए मुफ्त बिजली का यह शिगूफा राज्य को किस ओर ले जाएगा

आखिर वोट बटोरने के लिए मुफ्त बिजली का यह शिगूफा राज्य को किस ओर ले जाएगा

राजनीति
(DID NEWS):- किस ओर ले जाएगा? राज्य में 1997 में साढ़े तीन सौ करोड़ रुपये से शुरू हुई सब्सिडी अब साढ़े दस हजार करोड़ रुपये से ज्यादा हो चुकी है। इस वित्त वर्ष में बिजली सब्सिडी के 17,800 करोड़ रुपये पंजाब सरकार पर बकाया हैं, जो उसे पावरकॉम को देने हैं। अब अगर दो सौ यूनिट सभी को मुफ्त देने की योजना लागू होती है तो सरकारी खजाने पर 7,768 करोड़ रुपये सब्सिडी का बोझ और पड़ने वाला है। निश्चित तौर पर इससे माली हालत और बिगड़ेगी। पहले ही पंजाब 2.73 लाख करोड़ रुपये के कर्ज तले दबा हुआ है। एक सच्चाई यह भी है कि पंजाब में दी जा रही इस सब्सिडी का चालीस फीसद हिस्सा बिजली बिलों पर विभिन्न शुल्कों के रूप में उन लोगों से ही वसूला जा रहा है, जो सब्सिडी के दायरे में नहीं आते। यानी घरेलू उपभोक्ता एवं दुकानदार। कोई भी पार्टी यह शुल्क लगाने का विरोध नहीं करती। यही नहीं, पंजाब में आम जनता के लिए बिजली पड़ो...
आखिर वोट बटोरने के लिए मुफ्त बिजली का यह शिगूफा राज्य को किस ओर ले जाएगा

आखिर वोट बटोरने के लिए मुफ्त बिजली का यह शिगूफा राज्य को किस ओर ले जाएगा

राजनीति
बादल साहब अब हमें कोई नहीं हरा सकता!’ ये शब्द बलराम जी दास टंडन ने 1997 में कहे थे। तब पंजाब में शिरोमणि अकाली दल एवं भाजपा गठबंधन की सरकार थी। कैबिनेट की बैठक में जब किसानों को मुफ्त बिजली देने का फैसला हुआ तो वरिष्ठ मंत्री टंडन ने यह भी कहा था, ‘आपने गांवों के लोगों को अपने हक में कर लिया है, बाकी शहरी इलाकों में हम देख लेंगे।’ लेकिन अगले ही साल यानी 1998 में हुए लोकसभा चुनाव में गठबंधन एक भी सीट नहीं ले सका। मंथन हुआ कि आखिर मुफ्त बिजली देकर भी क्या हुआ? फिर टंडन ने ही प्रस्ताव रखा कि यह सब्सिडी बंद कर दी जाए, पर ऐसा करना तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के लिए आसान नहीं था। 2002 के विधानसभा चुनाव में गठबंधन की फिर हार हुई। आज पंजाब में मुफ्त बिजली के साथ ही बिजली का संकट फिर सियासी मुद्दा है। मुफ्त बिजली के उजाले के पीछे का अंधेरा अब भी कायम है और सियासी फायदे के लिए उसे कोई दे...
वसुंधरा के करीबी नेता पर बीजेपी ने चलाया अनुशासन का डंडा

वसुंधरा के करीबी नेता पर बीजेपी ने चलाया अनुशासन का डंडा

राजनीति
राजस्थान बीजेपी में अनुशासन का डंडा चलने से आग उगलने वाले नेताओं की जुबान फिलहाल खामोश हो गई है. पार्टी के प्रदेश महामंत्री ने डॉक्टर रोहिताश्व शर्मा  को पहले नोटिस दिया, अब अनुशासन समिति ने एक और नोटिस देकर उनसे उनके दिए विवादित बयानों पर जवाब मांगा है. पार्टी के इस कदम से रोहिताश्व के तेवर नरम पड़ गए हैं. वहीं, पार्टी असंतुष्ट धड़े के नेताओं के संभल-संभलकर पर कतरने की तैयारी में जुट गया है. एक सप्ताह पहले तक अपनी ही पार्टी पर सवाल उठाने वाले डॉ. रोहिताश्व के तेवर अब नरम हैं. अनुशासन समिति के एक ओर नोटिस के बाद बानसूर के इस फायरब्रांड लीडर के बयानों में अब वो गर्मी नहीं, जो पहले नजर आ रही थी. संगठन को आड़े हाथ लेते हुए खरी खोटी सुनाने वाले रोहिताश्व को लगता है कि उन्हें पार्टी से बाहर निकालने की तैयारी हो रही है लिहाजा वो अपने आपको पार्टी का समर्पित कार्यकर्ता करार देते हुए अनुशासन समिति...
लद्दाख में सैलानियों ने जगह-जगह फैलाया कूड़ा, भाजपा सांसद बोले- यह हमारा घर है आपका कूड़ेदान नहीं

लद्दाख में सैलानियों ने जगह-जगह फैलाया कूड़ा, भाजपा सांसद बोले- यह हमारा घर है आपका कूड़ेदान नहीं

राजनीति
(DID NEWS):- देश की सबसे बड़ी लोकसभा सीट से भाजपा के सांसद जमयांग सेरिंग नामग्याल ने पर्यटकों द्वारा लद्दाख में फैलाए जाने वाले कूड़ा पर नाराजगी जाहिर की है। भाजपा सांसद ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के जरिए सैलानियों से अनुरोध किया कि अपने समय का पूरा आनंद लें लेकिन कृपया यहां-वहां कचरा न फैलाएं। जमयांग सेरिंग नामग्याल ने सबसे पहले लद्दाख आने वाले पर्यटकों का स्वागत किया और फिर अनुरोध किया कि आप अपने समय का पूरा आनंद लें लेकिन कृपया यहां-वहां कचरा न फैलाएं। यह हमारा घर है आपका कूड़ेदान नहीं। लद्दाख की समृद्ध संस्कृति, सुंदर प्रकृति और उज्ज्वल भविष्य का सम्मान करें। इसे हमेशा अपने दिल और दिमाग में रखें। कोरोना प्रतिबंधों में छूट मिलने के बाद पर्यटन क्षेत्रों में सैलानियों का जमावड़ा लग गया है। जिनमें हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, लद्दाख की पहाड़ियां शामिल हैं। बीते दिनों हिमाचल प्...