Tuesday, May 11Welcome Guest !

उत्तरप्रदेश SPECIAL

जेल में बंद BJP विधायक कुलदीप सेंगर पर लटकी ट्रांसफर की तलवार

जेल में बंद BJP विधायक कुलदीप सेंगर पर लटकी ट्रांसफर की तलवार

उत्तरप्रदेश SPECIAL
एक साल से सीतापुर जेल में निरूद्ध विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर स्थानांतरण की तलवार लटक रही है। इन्हें सीतापुर जेल से नैनी सेंट्रल जेल इलाहाबाद स्थानांतरित किया जा सकता है। विभागीय कार्रवाई को अमल में लाने के लिए कारागार के वरिष्ठ अधिकारियों ने सोमवार देर शाम तक सूचनाओं का आदान प्रदान किया है। बता दें कि उन्नाव जिले के भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को बीते वर्ष रायबरेली जेल से सीतापुर कारागार स्थानांतरित कर लाया गया था। विभागीय सूत्रों की मानें तो हाई सिक्यिोरिटी सुरक्षा जेल न होने के कारण कई बार विभागीय अधिकारियों को परेशानियों का सामना भी करना पड़ा। सीतापुर करागार बीते दिनों उस समय खास चर्चा में आया, जब कुलदीप सिंह सेंगर से मिलने कुछ लोगों का वीडियो वायरल हुआ। देर शाम कारागार प्रांगण के भीतर बने वीडियो के वायरल होते ही चाक चौबंद सुरक्षा का हवाला जेल अधीक्षक डीसी मिश्रा को खुद आगे आकर दे...
जयपुर से आ रही बस में चौपला पर लगी आग

जयपुर से आ रही बस में चौपला पर लगी आग

उत्तरप्रदेश SPECIAL
राजस्थान  के जयपुर से सवारियां लेकर बरेली आ रही एक निजी बस में चौपला चौराहे पर अचानक आग लग गई। आग लगने से सवारियों में खलबली मच गई। ड्राइवर और परिचालक ने खिड़कियों से सवारियों को बाहर निकाला। मामले की सूचना फायर ब्रिगेड को दी गई। फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू किया। सवारियों का सामान अभी भी बस में ही है। बरेली और जयपुर के लिए कई निजी बसें चलती हैं। जरी कारोबार से जुड़े लोग बरेली से जयपुर तक का सफर करते हैं। सोमवार रात करीब 9 बजे जयपुर से एक निजी बस बरेली आ रही थी। उसमें भोजीपुरा पुराना शहर किला इलाके की सवारियां थी। भोजीपुरा के पप्पू ने बताया कि बस करीब रात 9 बजे जयपुर से चली थी। सुबह 8 बजे चौपला चौराहे पर पहुंची। अचानक बस में आग लग गई। हालांकि बरसात होने की वजह से आग ज्यादा भड़क नहीं पाई। फौरन सवारियों को बस से बाहर निकाला । सूचना फायर ब्रिगेड को दी गई। फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने आग पर काबू क...
जिला पंचायत उपचुनाव के दौरान प्रधान पुत्र की गोली लगने से मौत, पुलिस पर पथराव

जिला पंचायत उपचुनाव के दौरान प्रधान पुत्र की गोली लगने से मौत, पुलिस पर पथराव

उत्तरप्रदेश SPECIAL
मेरठ : मेरठ में जिला पंचायत उपचुनाव के दौरान बूथ कैप्‍चरिंग को लेकर हुई हिंसा में चली गोली में प्रधान पुत्र की मौके पर ही मौत हो गई. गोली चलाने का आरोप भाजपा समर्थित प्रत्याशी विजय धाम पर लगा है. प्रधान पुत्र की हत्या से क्षेत्र में तनाव है. ग्रामीणों ने आक्रोशित होकर पुलिस के ऊपर पथराव करते हुए पुलिस की आधा दर्जन से अधिक गाड़ियां क्षतिग्रस्त कर दीं. चुनाव में हिंसा की जानकारी मिलने पर शहर से भारी संख्या में फोर्स को गांव में भेजा गया है. हालात गंभीर और ग्रामीणों में घटना को लेकर असंतोष है. मेरठ के ब्लॉक परिक्षितगढ़ थाना क्षेत्र में जिला पंचायत के उपचुनाव के दौरान भाजपा समर्थित प्रत्याशी ने ग्राम बली के प्रधान के पुत्र की गोली मारकर हत्या कर दी. युवक की हत्या से ग्रामीणों में गुस्‍सा फैल गया. चुनाव में हिंसा की जानकारी डायल 100 पर दी गई. इसके बाद घटनास्थल पर एसपी देहात समेत कई थानों की...
औरैया में ट्रक ने ऑटो में पीछे से टक्कर मारी, 5 शिक्षकों समेत 8 की मौत

औरैया में ट्रक ने ऑटो में पीछे से टक्कर मारी, 5 शिक्षकों समेत 8 की मौत

उत्तरप्रदेश SPECIAL
औरैया. यहां शनिवार को ट्रक की टक्कर से ऑटो में सवार 5 शिक्षिकों समेत 8 लोगों की मौत हो गई। सभी शिक्षक स्कूल जा रहे थे। हादसे में दो लोग घायल हैं। मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के लोगों की मदद से ऑटो में फंसे लोगों को बाहर निकाला और अस्पताल भिजवाया। पुलिस के मुताबिक- शनिवार सुबह करीब साढ़े छह बजे दिबियापुर से पुरवा सुजान जाने के लिए ऑटो में एक महिला शिक्षक समेत 5 टीचर और 5 अन्य लोग सवार हुए थे। बेला मार्ग पर ऑटो सौंथरा अड्डे के पास पहुंचा, तभी पीछे से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने टक्कर मार दी। हादसे में ऑटो सवार बुरी तरह वाहन में ही फंस गए। आसपास के लोगों ने तुरंत राहत-बचाव कार्य शुरू किया। दुर्घटना की सूचना मिलने पर कलेक्टर-एसपी समेत कई आलाधिकारी मौके पर पहुंचे। 5 शिक्षक और 3 अन्य लोगों को मृत घोषित किया गया। दो घायलों की नाजुक बताई जा रही है।...
गाजियाबाद: पत्नी और तीन बच्चों की हत्या के बाद की आत्महत्या

गाजियाबाद: पत्नी और तीन बच्चों की हत्या के बाद की आत्महत्या

उत्तरप्रदेश SPECIAL
गाजियाबाद. मसूरी थानाक्षेत्र के न्यू शताब्दीपुरम इलाके में एक शख्स ने पत्नी और तीन बच्चों की हत्या के बाद खुदकुशी कर ली। घटनास्थल से पुलिस को सुसाइड नोट मिला है। पुलिस के मुताबिक शख्स ने सिर्फ इस वजह से पत्नी और तीन बच्चों की हत्या कर दी, क्योंकि उसकी पत्नी उस पर शक करती थी। पति बेरोजगार भी था और शराब का लती भी। पिता शेरू ने बताया कि सुबह काफी देर तक बेटे के कमरे का दरवाजा नहीं खुला। इस पर उन्होंने पुलिस को सूचना दी। पुलिस सुबह करीब 6 बजे दरवाजा तोड़कर कमरे में घुसी। कमरे में एक बेड पर प्रदीप (37) और उसके तीनों बच्चों मनस्वी (8), तेजस्वी (5) व ओजस्वी (3) के शव पड़े थे। सभी के चेहरे पर काले टेप लिपटे थे। फर्श पर पत्नी संगीता (32) तड़प रही थी। उसे अस्पताल के लिए लेकर निकले, लेकिन रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। पत्नी एम्स में स्टाफ नर्स थी। ...
योगी ने की मुख्यमंत्री हेल्पलाइन की शुरूआत

योगी ने की मुख्यमंत्री हेल्पलाइन की शुरूआत

उत्तरप्रदेश SPECIAL
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्मयंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को लोकभवन में एक कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री हेल्पलाइन योजना को लांच किया। इस मौके पर  योगी ने कहा कि जनता दर्शन के दौरान 22 लाख मामले आए जिसमें 20 लाख मामलों का हुआ निस्तारण किया गया। सीएम ने कहा कि यदि इस दौरान कोई झूठी शिकायत करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। यह सुविधा 24 घंटे उपलब्ध रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हेल्पलाइन पर शिकायत का निस्तारण विभाग करके हेल्पलाइन को सूचित करेगा। मुख्यमंत्री हेल्पलाइन संबंधित शिकायतकर्ता से पूछा जाएगा कि वो संतुष्ट हैं या नहीं। यदि संतुष्ट नहीं है तो वापस मामले को उच्च अधिकारी को भेजा जाएगा।योगी ने कहा कि प्रदेश की जनता के प्रति सरकार की जवाबदेही को  यह हेल्पलाइन तय करेगी । लोकतंत्र में जनता से संवाद जरूरी है और मुख्यमंत्री हेल्पलाइन इस का बड़ा साधन बनेगी। योगी ने कहा कि प्रदेश की जनत...
OBC के 17 समुदायों को SC सूची में शामिल नहीं करना चाहिए था: केंद्र सरकार

OBC के 17 समुदायों को SC सूची में शामिल नहीं करना चाहिए था: केंद्र सरकार

उत्तरप्रदेश SPECIAL
केंद्र ने मंगलवार को कहा कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार को निर्धारित प्रक्रिया का पालन किए बिना, अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल 17 समुदायों को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल नहीं करना चाहिए था। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत ने राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान कहा ''यह उचित नहीं है और राज्य सरकार को ऐसा नहीं करना चाहिए।शून्यकाल में यह मुद्दा बसपा के सतीश चंद्र मिश्र ने उठाया। उन्होंने कहा कि अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल 17 समुदायों को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल करने का उत्तर प्रदेश सरकार का फैसला असंवैधानिक है क्योंकि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग की सूचियों में बदलाव करने का अधिकार केवल संसद को है। गहलोत ने कहा कि किसी भी समुदाय को एक वर्ग से हटा कर दूसरे वर्ग में शामिल करने का अधिकार केवल संसद को है। उन्होंने कहा ''पहले भी इसी तरह के प्रस्ताव संसद को...
विभागों के पुनर्गठन के प्रस्ताव को नहीं मिली कैबिनेट की मंजूरी

विभागों के पुनर्गठन के प्रस्ताव को नहीं मिली कैबिनेट की मंजूरी

उत्तरप्रदेश SPECIAL, क्षेत्रीय समाचार
लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी की अध्यक्षता में लोकभवन में हुई कैबिनेट बैठक में सचिवालय में विभागों के पुनर्गठन के लिए लाए गए प्रस्ताव को मंजूरी नहीं मिल पायी। इस प्रस्ताव को लेकर हालांकि सीएम योगी ने कहा कि अभी इस पर और चर्चा किए जाने की जरूरत है। उन्होंने मामले पर जल्द से जल्द विचार-विमर्श पूरा कर फिर से कैबिनेट में प्रस्ताव लाने के निर्देश दिए।दरअसल, मुख्यमंत्री ने पिछले महीने सचिवालय में विभागों के पुनर्गठन से जुड़े प्रस्ताव पर सिद्धांत रूप में सहमति दी थी, और इससे जुड़े प्रस्ताव को कैबिनेट के सामने विचार के लिए लाने का निर्देश दिया था।इसके अंतर्गत एक जैसे कई विभागों को जोड़ते हुए सचिवालय स्तर पर अपर मुख्य सचिव स्तर वाले आयुक्त के कई नए पद सृजित करने और कई एक जैसे विभागों के आपस में विलय की बात कही गई थी।साथ ही इसी आधार पर आने वाले दिनों में शासन स्तर पर प्रशासनिक फेरबदल और मंत्रिमंडल का पुनर्...
योगी को चुनौती देने से पहले वोट अंतर कम करने पर ध्यान दें प्रियंका

योगी को चुनौती देने से पहले वोट अंतर कम करने पर ध्यान दें प्रियंका

उत्तरप्रदेश SPECIAL
लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद अब कांग्रेस पार्टी का पूरा ध्यान 20022 में उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव पर है। पार्टी ने हाल ही में सभी जिला समितियों को भंग कर दिया और फिर संगठन प्रभारी केसी वेणुगोपाल द्वारा एक बयान जारी किया जाता है कि उत्तर प्रदेश की पूर्वी प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और पश्चिम के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिधिंया के सुझाव के बाद ऐसा किया गया। समितियां भंग करने के बाद अब कांग्रेस ने विधायक दल के नेता अजय कुमार लल्लू को पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रभारी बनाया और नए सिरे से संगठन में बदलाव करने की जिम्मेदारी सौंपी। हालांकि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी का नाम जल्द ही घोषित किया जा सकता है। कांग्रेस ने एक तरफ तो पार्टी को मजबूत करने का बीड़ा उठा रखा है तो दूसरी तरफ प्रियंका गांधी ने अपना पूरा ध्यान उत्तर प्रदेश की तरफ लगा लिया है। पिछले कुछ दिनों से प्...