Thursday, October 28Welcome Guest !

सार्वजनिक जगहों पर मिल सकती है छठ पूजा की इजाजत : दिल्ली

(DID News) नई दिल्ली :- दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी में सार्वजनिक जगहों पर छठ पूजा की मंजूरी के लिए उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल को पत्र लिखा है। एलजी को लिखे पत्र में सीएम केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली में पिछले तीन महीनों से कोरोना संक्रमण नियंत्रण में है। इसलिए कोरोना प्रोटोकाल का पूरा ध्यान रखने हुए छठ पूजा मनाने की अनुमति दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान समेत अन्य राज्यों ने भी नागरिकों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को देखते हुए उचित प्रतिबंधों के साथ छठ पूजा मनाने की अनुमति दी है।

अरविंद केजरीवाल ने एलजी अनिल बैजल से अपील किया है कि जल्द से जल्द डीडीएमए की बैठक बुलाकर छठ पूजा के लिए मंजूरी दिया जाए।

मुख्यमंत्री ने पत्र के माध्यम से एलजी अनिल बैजल से कहा है कि दिल्ली के लोग बड़ी आस्था के छठ पूजा का पर्व हर साल मनाते हैं। यह त्योहार हमारी वैदिक आर्य संस्कृति का अहम हिस्सा है। छठ पूजा पर सूर्य देव और छठी माइया की पूजा करने वाले व्यक्ति को स्वास्थ्य समृद्धि और सुखों का लाभ होता है। बता दें कि छठ पूजा आठ नवंबर से शुरू होगा। लेकिन दिल्ली में इसको लेकर राजनीति काफी गरम है।

वहीं, दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली सरकार द्वारा छठ पूजा कराने के निर्णय को आस्था की जीत बताया है। उन्होंने कहा कि हम सब कोविड के नियमों अनुसार अनुशासित तरीके से छठ घाट पर पूजा करेंगे।

छठ पूजा के आयोजन के समर्थन में दिल्ली सरकार

छठ के आयोजन को लेकर हो रही राजनीति के बीच दिल्ली सरकार भी सार्वजनिक छठ पूजा आयोजन के समर्थन में आ गई है। मंगलवार को उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस बारे में अनुमति देने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया को पत्र लिखा था। पत्र में सिसोदिया ने मांडविया से सार्वजनिक जगहों पर छठ पूजा की अनुमति देने और आयोजन को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करने के लिए आग्रह किया है।

छठ पूजा की मंजूरी के लिए भाजपा ने किया था प्रदर्शन

छठ पूजा की मंजूरी की मांग को लेकर भाजपा ने मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास पर विरोध प्रदर्शन किया था। प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने पानी की बौछार डाली, जिससे उत्तर-पूर्वी दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी सहित कई कार्यकर्ता जख्मी हो गए थे। मनोज तिवारी को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था। इलाज के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई थी।

बता दें कि कोरोना संक्रमण का हवाला देकर दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा के आयोजन पर रोक लगा दी गई है। भाजपा और छठ पूजा आयोजन समितियां इस फैसले का विरोध कर रही हैं। आम आदमी पार्टी भी छठ पूजा के आयोजन के समर्थन में है।