Thursday, October 28Welcome Guest !

“प्रयागपीठ” के जगत गुरु शंकराचार्य स्वामी ओंकारानंद सरस्वती भी मीडिया से कहेंगे अपनी बात

(DID News) नई दिल्ली :-  Mahant Narendra Giri Death: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में हुई मौत की मामले में “प्रयागपीठ” के जगत गुरु शंकराचार्य स्वामी ओंकारानंद सरस्वती जी भी अपनी बात कहेंगे। इसके लिए वो दोपहर तीन बजे मीडिया से मुखातिब होंगे। शंकराचार्य जी के सचिव अनिल मित्तर ने इस बारे में एक पत्र जारी करके जानकारी दी है

मालूम हो कि सोमवार शाम नरेंद्र गिरि (60) श्री मठ बाघम्बरी गद्दी के विश्राम गृह स्थित कमरे में मृत पाए गए थे। इसकी जांच फिलहाल 18 सदस्यीय एसआइटी कर रही है। इस मामले में आरोपित तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। मौके से सुसाइड नोट मिला था, जिसमें उन्होंने अपने शिष्य समेत तीन लोगों पर परेशान करने का आरोप लगाया था। यह मंगलवार को सार्वजनिक हुआ। इसमें शिष्य योग गुरु आनंद गिरि, हनुमान मंदिर के पुजारी आद्या तिवारी, उनके बेटे संदीप तिवारी को मौत के लिए जिम्मेदार बताया गया है। दो आरोपितों की गिरफ्तारी मंगलवार को ही दर्शा दी गई थी। एसआइटी अध्यक्ष अजीत सिंह ने शाम छह बजे तीसरे आरोपित संदीप की गिरफ्तारी की पुष्टि की।

इस घटना के बाद से ही उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य सहित तमाम संत-महंत आत्महत्या को लेकर संदेह जता चुके हैं। वहीं, राजनीतिक दलों ने भी प्रकरण की सीबीआइ या न्यायिक जांच कराने की मांग की थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से सीबीआइ जांच की सिफारिश कर दी है। अब इस मामले की जांच अब सीबीआइ करेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर गृह मंत्रालय ने इसकी मंजूरी दे दी है। गृह विभाग ने प्रकरण की सीबीआइ जांच कराने की सिफारिश केंद्र सरकार को भेज दी है।

उधर इस मामले में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी का कहना है कि महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में मौत प्रकरण की सीबीआइ जांच होगी। गृह विभाग के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से यह जानकारी साझा की गई है।