Thursday, October 28Welcome Guest !

जमीन विवाद को कम करने के लिए नए नियमों पर विचार कर रहा भूमि सुधार विभाग

 

(DID NEWS):-  जमीन बंटवारे के मामले में अक्सर ऐसा होता है कि किसी परिवार में कई भाई हैं तो किसी एक भाई की वजह से संपत्ति बंटवारा नहीं हो पाता है। इसके बाद यह झगड़ा का कारण बनता है। इससे जुड़े मामले लगातार सामने आ रहे हैं। कई बार झगड़ा का यह मामला हिंसक भी हो जाता है। विभाग ने इसकी गंभीरता को समझते हुए इसका समाधान करने का मन बनाया है। मंत्री रामसूरत राय के मुताबिक, वर्तमान नियमों में बदलाव करके नया कानून लाया जाएगा।

भूमि सुधार विभाग के मंत्री रामसूरत राय ने कहा है कि बिहार में जमीन विवाद में काफी कमी आ जाती, लेकिन भू-माफिया परेशानी के सबब बने हुए हैं। इसका समाधान किया जा रहा है। विभाग प्रक्रिया में लगा हुआ है। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि परिवार में 10 भाई हैं और पूर्वज की संपत्ति में सभी का हिस्सा होता है। इसमें से 50-60 फीसदी सहमत हैं और बाकी असहमत हैं। इससे संपत्ति का बंटवारा बाधित हो रहा है तो संशोधन करके कानून लाया जाएगा। जिससे, बहुमत के आधार पर फैसला किया जा सके।मंत्री रामसूरत राय ने कहा कि स्थानीय स्तर पर पंचायत समिति के प्रतिनिधि और चकबंदी की समिति के लोगों के साथ वर्तमान मुखिया और वार्ड सदस्य भी इसमें रहेंगे। ऐसा इसलिए किया जा रहा है कि सहमति से बंटवारा हो सके और किसी भी पक्ष को बेवजह परेशान नहीं होना पड़े। जमीन बंटवारा से जुड़े ज्यादातर मामले कोर्ट में जाते हैं और उसमें हिंसक झड़प आम बात हो गई है। बिहार में अपराध के अधिक मामले इसी विवाद से जुड़े होते हैं और इसमें हत्या तक होती रही है।