Thursday, September 23Welcome Guest !

काबुल एयरपोर्ट पर छठवें दिन भी भयावह स्थिति; अफगानियों की भारी भीड़

देश – विदेश (DID News): अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के आज पांच दिन बाद भी काबुल एयरपोर्ट के हालात खतरनाक बने हुए हैं। एयरपोर्ट के बाहर जब-तब फायरिंग होने लग रही है। तालिबानी विद्रोहियों की गोली कब किसे लग जाए, कोई नहीं जानता। तालिबान लड़ाकों की क्रूरता से लोग इस तरह खौफजदा हैं कि फायरिंग होने के बावजूद भी वहां से हटने को तैरूार नहीं हैं।

लोग मजबूरन महिलाओं और बच्चों को लेकर एयरपोर्ट पहुंच रहे हैं, ताकि किसी भी तरह से उन्हें देश से बाहर निकलने का मौका मिल सके।तालिबान का प्रमुख नेता हैबतुल्लाह अखुंदाजा पाकिस्तानी में हो सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि विदेशी इंटेलीजेंस एजेंसीज ने अखुंदजादा से जुड़े इनपुट शेयर किए हैं। इस पर भारत भी नजर बनाए हुए है। 

एक अधिकारी ने बताया है कि अखुंदजादा पाकिस्तानी सेना की हिरासत में हो सकता है। तालिबान के दूसरे सीनियर लीडर्स ने उसे पिछले 6 महीने से नहीं देखा है। दूसरी तरफ ऐसी खबरें भी आ रही हैं कि लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठनों ने तालिबान से मेल-मिलाप बढ़ाना शुरू कर दिया है।