Thursday, October 28Welcome Guest !

बाबूजी के सामने राजभवन में गूंजा था जयश्री राम का नारा

 उत्तरप्रदेश SPECIAL (DID News) :-बाबू जी अब नहीं हैं, पर उनकी यादें कस्बे में बिखरी पड़ी हैं। यहां के कार्यकर्ताओं से उनका खास लगाव रहा। यही वजह रही कि वे जहां भी जाते, उनसे मिलने यहां के कार्यकर्ता जरूर जाते। राजस्थान के राज्यपाल बनने पर भी यहां से कई कार्यकर्ता गए थे। इनमें शामिल विष्णु गोयल तो राजभवन में ही जयश्री राम के नारे लगाने को लेकर चर्चा में आ गए थे।शपथ ग्रहण के दौरान जयश्री राम के नारे की गूंज पर विरोधी दलों के लोगों ने टिप्पणी की। विरोध को देखते हुए बाबूजी ने इसे अपनी-अपनी आस्था बताया था। जब भी वे इगलास आते तो कार्यकर्ता से मुलाकात जरूर करते थे। वर्ष 1986 में वह बेसवां कस्बा में कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करने आए थे।

उस दौरान वे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष थे। तब वे युवा कार्यकर्ता विष्णु गोयल के आवास पर कोल विधायक किशनलाल दिलेर के साथ चाय पीने पहुंचे थे।खुद की मेहनत पर भरोसा करने वाले कल्याण सिंह (बाबूजी) किसी काम से पीछे नहीं हटते थे। चाहे चुनाव प्रचार हो या फिर सभा की तैयारी। सभी की कमान अपने हाथ में रखते थे। उनकी एक और खासियत यह थी कि वे खुद के हाथ बनी रोटी अधिक पसंद करते थे। यही वजह थी कि वे कहीं भी रहें, लेकिन रसोइया नहीं रखा। दुनियाभर के लोग हिंदुत्व को लेकर उनकी कट्टर छबि देखते हों, मगर उनकी असल जिंदगी बेहद सादगी भरी थी।