Thursday, October 28Welcome Guest !

आज जितिया व्रत, जानें पूजा की सही विधि, तिथि व पारण समय

(DID News) :- जीवित्पुत्रिका व्रत हिंदू कैलेंडर के अनुसार, हर साल आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को रखा जाता है. साल 2021 का जीवित्पुत्रिका व्रत या जितिया व्रत आज 29 सितंबर दिन बुधवार को रखा गया है. इसे कुछ स्थानों पर जितिया व्रत या जिउतिया व्रत भी कहते हैं. जीवित्पुत्रिका व्रत को माताएं अपने पुत्रों दीर्घायु होने, संतान की सुरक्षा और उनके सुखी जीवन के लिए निर्जला व्रत रखती हैं. इस व्रत में गंधर्व राजकुमार जीमूतवाहन की पूजा की जाती है और इन्हीं के नाम पर इस व्रत का नाम जीवित्पुत्रिका रखा गया.

 

जीवित्पुत्रिका व्रत 2021 की सही तिथि  मुहूर्त

 

हिंदी पंचांग के अनुसार, साल 2021 में आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि 28 सितंबर दिन मंगलवार शाम को 06 बजकर 16 मिनट पर शुरू हो रही है. इस​ तिथि का समापन 29 सिंतबर दिन बुधवार को रात 08 बजकर 29 मिनट पर होगा. धार्मिक मान्यता के अनुसार व्रत प्रारंभ उदयातिथि को शुरू किया जाता है. इस लिए जीवित्पुत्रिका व्रत आज 29 सितंबर को रखा गया है. वैसे तो यह व्रत तीन दिनों का होता है. प्रथम दिन यानी 28 को नहाए व खाए से शुरू होता है. उसके बाद अगले दिन यह व्रत निर्जला व्रत रखा जाता है.

 

जीवित्पुत्रिका व्रत 2021 पारण

जीवित्पुत्रिका व्रत या जितिया व्रत के पारण का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान होता है क्योंकि व्रत का पारण अगले दिन किया जाता है उसके बाद ही माताएं कुछ ग्रहण करती हैं. इस प्रकार जो भी माताएं 29 सितंबर 2021 को जीवित्पुत्रिका व्रत रखी हैं उनको 30 सितंबर दिन गुरुवार को पूजा के बाद पारण करना चाहिए.  व्रत धारी को पारण सूर्योदय के बाद और दोपहर के पहले कर जरूर लेना चाहिए. बिना विधि पूर्वक और सही समय में पारण किये  उसका संपूर्ण फल भी प्राप्त नहीं होता.