Tuesday, December 7Welcome Guest !

साल के अंत में धनबाद में प्रीपेड मीटर

धनबाद (DID News) :- अब धनबाद में भी स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगेगा। उपभोक्ताओं को मोबाइल फोन की तरह रिचार्ज कराना होगा। जैसे ही बैलेंस खत्म होगा बिजली की आपूर्ति कट जाएगी। बिजली विभाग को भी बिल वसूल करने के लिए मशक्कत नहीं करना पड़ेगा। झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड (JBVNL) ने इस साल के अंत तक घरों में स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने की तैयारी कर रहा है। धनबाद सर्किल में डेढ़ लाख उपभोक्ताओं के घर में स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगेगा। इसके लिए जल्दी सर्वे शुरू किया जाएगा।

एयरटेल के नेटवर्क से होगा रिचार्ज

झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड हीरापुर के कार्यपालक अभियंता शैलेंद्र भूषण ने बताया कि प्रीपेड मीटर के रिचार्ज के लिए शहर में अलग-अलग स्थानों पर केंद्र खोले जाएंगे। एयरटेल किन नेटवर्क का इस्तेमाल कर रिचार्ज किया जा सकेगा। प्रीपेड मीटर में खास तरह का चिप लगेगा हर उपभोक्ताओं को कंज्यूमर नंबर और खास आईडी मिलेगी। 10 डिजिट के आईडी नंबर पर उपभोक्ता रिचार्ज करेंगे।

जेबीवीएनएल देगा मीटर

स्मार्ट प्रीपेड मीटर झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड उपभोक्ताओं को देगा। टेस्टिंग खत्म होते ही धनबाद रांची और जमशेदपुर में 3 फेज की बिजली इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ताओं के घरों में मीटर लगाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

क्या है Prepaid Smart Meter Yojana

यह मीटर जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है प्रीपेड होगा। यानी कि पैसे पहले चुकाने होंगे। और यह होगा रिचार्ज के जरिए। जी हां, इसे बिल्कुल मोबाइल फोन की तरह रिचार्ज करना होगा। जैसे ही रिचार्ज खत्म होगा, संबंधित आवास की बिजली अपने आप ठप हो जाएगी। ऐसा होते ही तुरंत एक मैसेज बिजली उपभोक्ता के पास जाएगा, ताकि वह दोबारा से अपने मीटर को रिचार्ज करा सके और बिजली को पुनः चालू किया जा सके।

Prepaid Smart Meter के फायदें

  • उपभोक्ताओं को स्मार्ट मीटर पर लगी डिस्प्ले स्क्रीन के माध्यम से वर्तमान शेष बिजली बिल, बिजली की वर्तमान शेष राशि, और पिछले महीने खपत बिजली की मात्रा के माध्यम से पता चल सकता है, जिससे उन्हें अपने स्वयं के बिजली की खपत के बारे में पता चल जाएगा।
  • स्मार्ट मीटर स्वचालित रूप से अलार्म का उपयोग करता है। जब बिजली का उपयोग किया जाता है। जब निवासी के घर में बिजली का लोड अधिक होता है या शेष बैटरी अपर्याप्त होती है, तो यह स्वचालित रूप से अलार्म होगा, जो निवासियों को बिजली लोड या समय पर रिचार्ज को कम करने के लिए याद दिलाएगा।
  • स्मार्ट मीटर का रिचार्ज यानी बिजली के लिए भुगतान त्वरित और आसान है। कई सुपरमार्केट सुविधा स्टोर बिजली रिचार्जिंग और भुगतान सेवाएं प्रदान कर रहे हैं। इसके अलावा कई ऑनलाइन भुगतान प्लेटफार्मों ने बिजली भुगतान सेवाएं भी खोली हैं।
  • बिजली रिचार्ज की वजह से बिजली विभाग पर बकाया का भार नहीं रहेगा। न ही वसूली की नौबत आएगी। न अभियान की जरूरत पड़ेगी। कुल मिलाकर ‘सब कुछ चंगा सी’ होगा।
  • माना जा रहा है कि बिजली के क्षेत्र में कई कंपनियों के आ जाने से हर बिजली कंपनी पर परफॉर्मेंस के लिए दबाव रहेगा। उनके बीच किफायती दरों पर अच्छी सेवा उपलब्ध कराने की प्रतिस्पर्धा रहेगी, जिसका सीधा फायदा ग्राहकों को होगा। उन्हें बेहतर सेवा उपलब्ध हो पाएगी।
  • इससे जहां ऊर्जा की बचत होगी, वहीं उन तमाम गरीब लोगों को भी सुविधा होगी, जो एक बार में अपना सारा बिजली का बिल जमा नहीं कर सकते हैं।
  • जैसा कि हम बता चुके हैं कि प्रीपेड स्मार्ट मीटर में रिचार्ज की सुविधा की वजह से बिल भेजने की झंझट से मुक्ति मिल जाती है। उसी तरह इसका एक पक्ष यह भी है कि यह पर्यावरण के अनुकूल भी है। क्योंकि इसमें बिल के लिए कागज की जरूरत नहीं पड़ती है।